boy-leave-girl-moves-away-from-her-sad-love-image

काश तू मुझे भूल गया होता और कहानियाँ वो सारी दफ़न हो गई होती
काश तेरे दिल की गालियाँ भी बाकियों की तरह बदचलन हो गई होती
काश लिखता ना लहू से तू नाम मेरा इस दुनिया की दीवारों पर
होती गर रेत पे मोहब्बत तेरी तो लहरों के साथ मिलन हो गई होती

खुशबू हर तरफ से जो तेरी आ रही थी रात भर वो कहीं खो गई होती
वो फुसफुसाहट जो मेरे कानों में थी तेरी काश कहीं दूर गम हो गई होती
काश ना सोचता मेरा दिमाग तेरे ही बारे में हर वक़्त
तो रातों को रह रह कर रुलाने वाली ये सिसकियाँ सुमदुम हो गई होती

ना तड़प होती तेरे सीने में काश मेरे साथ को अगर पाने की
तू करता हर संभव कोशिश मेरी यादों को दिल से मिटाने की
काश होता तेरा दिल भी औरों की तरह पत्थर थोड़ा
तो मैं ना होती इतनी गलत नज़रों में ज़माने की

मैं सोचती हूँ रात भर, काश हमारी कहानी ऐसे ना अधूरी होती
काश कि मेरे जीने के लिए तेरी हर सांस ज़रूरी होती
काश ना की होती हमने गलतियाँ इतनी हर बार
तो आज ये प्यार की दास्ताँ भी बाकियों की तरह पूरी होती

Picture taken from: Pixhome
Advertisements